ट्रेन से बच्चा और महिला की चोरी

समस्तीपुर से टाटानगर आ रही टाटा छपरा एक्सप्रेस में एक अजिबो-गरीब मामला सामने आया है, जहां ट्रेन में सवार जुगसलाई निवासी संदीप झा की धर्मपत्नी दो छोटे बच्चे और सामान ट्रेन से ही गायब हो गए है ।
जुगसलाई निवासी संदीप झा की धर्मपत्नी पूजा देवी और दो छोटे बच्चों को मधुबनी अपने गांव से लाने गए थे जहां समस्तीपुर से उन्होंने बुधवार रात टाटा छपरा एक्सप्रेस पकड़ा और परिवार के साथ हंसते खेलते टाटा आ रहे थे जहां बरौनी स्टेशन में सभी ने रात्रि भोजन किया और संदीप झा एस 1 कोच के 32 नंबर सीट पर थे वहीं उनकी धर्मपत्नी और बच्चे उनके सीट के नीचे 39 नंबर की सीट पर सो गए,जहाँ सुबह कांड्रा स्टेशन पहुँचते ही उनकी आंख खुली और उन्होंने पाया कि उनकी पत्नी, बच्चे और सामान गायब है ।

सफर के दौरान संदीप झा के साथ बागबेड़ा का भी एक परिवार उसी कोच में समस्तीपुर से जमशेदपुर के लिए चढ़ा, साथ सफर कर रहे परिवार के सदस्य अमितेश कुमार ने बताया कि वे सभी टाटानगर आने के लिए समस्तीपुर से उसी कोच में चढ़े जिस कोच में संदीप झां थे उन्होंने बताया उनकी मां ने आसनसोल से पहले बच्चे और उनकी धर्मपत्नी को देखा जहां आसनसोल स्टेशन के पहुंचते ही बच्चे और उनकी पत्नी अपनी सीट पर नहीं थी, शौच वगैरा गई होगी यह सोच कर उनकी मां पुनः सो गई जहां कांड्रा स्ट्रेशन पहुंचने पर पीड़ित संदीप झा के हल्ला करने पर उन्हें पता चला कि महिला और बच्चे गायब हो गए हैं ।

टाटानगर पहुँचते ही पीड़ित द्वारा टाटानगर जीआरपी में शिकायत दर्ज करा दी गई , मामला आसनसोल के आसपास का है तो टाटानगर जीआरपी द्वारा आसनसोल के जीआरपी से संपर्क कर मिसिंग की शिकायत आसनसोल जीआरपी में ट्रांसफर कर दिया गया है साथ ही टाटानगर जीआरपी के पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि इसके बाद भी टाटानगर जीआरपी द्वारा जो भी सहयोग पीड़ित परिवार को चाहिए होगा उनके द्वारा मदद की जाएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!