सरायकेला : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 10 अपराधकर्मियों को किया गिरफतार, दो कार, दो पिस्टल, पांच कट्टा समेत कई कारतूस बरामद

सरायकेला- खरसावां पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. जहां पुलिस ने बड़े संगठित गिरोह का खुलासा करते हुए गिरोह के सरगना कुख्यात मनोज सरकार सहित 10 अपराधकर्मियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. पुलिस ने इनके पास से हुंडई एवं फोर्ड कम्पनी की दो कार. 7. 65 mm का दो पिस्टल, पांच देसी कट्टा, 3.15 mm की छः जिंदा कारतूस, 10 मोबाईल और दो राउटर बरामद किया है. पुलिस की गिरफ्त में आए अपराध कर्मियों का नाम सरगना मनोज सरकार के अलावे डोमिनिक सैमसन, अधीर प्रधान, दीपू ओझा, ज्ञानी कुमार साहू, देवव्रत गोस्वामी उर्फ देवीदास, सुशांत प्रधान, संतोष बानरा, टोटन दत्ता एवं विजय साहू बताया जाता है. जानकारी देते हुए जिले के एसपी एम अर्शी ने बताया, कि सरगना मनोज सरकार के खिलाफ नोआमुंडी, चक्रधरपुर, गोलमुरी, परसुडीह, बर्मामाइंस डांगुआपोसी, आदित्यपुर सहित कोल्हान के कई थानों में 10 से भी ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं. जबकि डोमिनिक सैमसन के खिलाफ चक्रधरपुर, परसुडीह, गोविंदपुर एवं आदित्यपुर थाने में लगभग आधा दर्जन मामले दर्ज हैं. वही अधीर प्रधान के खिलाफ खरसावां, परसुडीह, चक्रधरपुर कुचाई एवं आदित्यपुर थाने में 8 मामले दर्ज हैं. वही दीपू ओझा के खिलाफ सिदगोड़ा थाना में 2 मामले दर्ज हैं. बताया जाता है, कि इनके द्वारा संगठित तरीके से सरायकेला एवं चक्रधरपुर इलाके में चल रहे रेलवे के कामों एवं जमीन के कारोबार में दहशत फैलाकर ठेका लेने की योजना थी. बीते दिनों आदित्यपुर थाना क्षेत्र में हुए रणजीत बेज हत्याकांड में भी इस गिरोह का ही हाथ बताया जा रहा है. वहीं आरआईटी थाना क्षेत्र में रेलवे साइट पर हुए गोली चालन की घटना में भी इस गिरोह का हाथ था. एसपी ने बताया कि गिरोह के सदस्य दहशत फैलाकर लेवी वसूली एवं अपने लोगों को ठेका दिलाने का काम करते हैं. बताया जा रहा है कि पुलिस की गिरफ्त पुलिस की गिरफ्त में आए एक अपराधी किसी राजनीतिक दल से भी सम्बंध रखता है. जिला पुलिस के लिए इसे एक बड़ी कामयाबी के रूप में देखी जा रही है ।

एम अर्शी, एस पी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!