आदित्यपुर : कृषि बिल के विरोध में कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों ने किया विरोध

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि बिल 2020 के विरोध में जहां पंजाब और हरियाणा के किसान दिल्ली बॉर्डर पर पिछले 22 दिनों से आंदोलित हैं वहीं देशभर में किसानों के समर्थन में केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है। वैसे देशभर के लगभग 23 राजनीतिक दलों के साथ कई किसान संगठन दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलित किसानों का समर्थन कर रहे हैं। इधर झारखंड में भी किसानों के समर्थन में केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन जारी है । रविवार को कांग्रेस सहित अन्य किसान समर्थित राजनीतिक एवं सामाजिक क्षेत्र के लोगों ने सरायकेलाबल- खरसावां जिले के आदित्यपुर में आंदोलित किसानों के समर्थन में 7 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनाकर केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि बिल 2020 का पुरजोर विरोध किया। वहीं कांग्रेसी नेता मुन्ना शर्मा ने केंद्र सरकार से अविलंब कृषि बिल 2020 वापस लिए जाने की मांग की। उन्होंने इस बिल को काला कानून बताया। वहीं इस मानव श्रृंखला में ईचागढ़ के पूर्व विधायक अरविंद सिंह भी शामिल हुए और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने किसानों की मांगों को जायज बताते हुए केंद्र सरकार से किसानों के हित में कृषि बिल वापस लिए जाने की मांग की ।

मुन्ना शर्मा (कांग्रेसी नेता)
अरविंद सिंह (पूर्व विधायक- ईचागढ़)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!