कोरोना वैक्सीन के नाम पर धोखाधड़ी से बचने के लिए सरायकेला पुलिस की अपील

कोरोना वैक्सीन के नाम पर धोखाधड़ी से बचने के लिए सरायकेला पुलिस की अपील।


सरायकेला खरसावां पुलिस ने कोरोना वैक्सीन के नाम पर फर्जीवाड़ा रोकने के उद्देश्य से जागरूकता अभियान की शुरुआत की है. खासकर साइबर अपराधियों पर नकेल कसने की दिशा में इसे अहम कदम माना जा रहा है. इस तरह के पोस्टर जिला पुलिस मुख्यालय सहित जिले के तमाम थानों के अलावा सम्बंधित थाना क्षेत्र के सभी महत्वपूर्ण क्षेत्रों में लगाया गया है. इस संबंध में जिले के एसपी ने बताया कि इसका उद्देश्य कोविड-19 के वैक्सीन उपलब्ध कराने के नाम पर साइबर अपराधियों द्वारा संभावित ठगी से आम लोगों को बचाना है. उन्होंने आम जनता से अपील करते हुए कहा, कि वैसे किसी भी फोन को अहमियत ना दें जिसमें आम जनता को फोन कर अथवा मैसेज भेज कर खुद को सरकार का कर्मचारी बताकर आम जनता को प्राथमिकता के आधार पर कोविड-19 वैक्सीन देने का विश्वास दिला कर उनका गोपनीय दस्तावेज, जैसे आधार कार्ड का विवरण, बैंक खाते का विवरण अथवा राशि स्थानांतरित करा कर ठगी किया जा सकता है. इसके अलावा साइबर अपराधियों द्वारा फेक पोर्टल बनाकर कोविड-19 होम डिलीवरी करने की भी अपील किए जाने की आशंका जताई. उन्होंने कोविड-19 का वैक्सीन उपलब्ध कराने हेतु ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के नाम पर अपराधियों द्वारा ठगी किए जाने की संभावना जताई. वही सोशल मीडिया में कोविड-19 वैक्सीन के गलत प्रभाव का वीडियो अथवा मैसेज डाल कर साइबर अपराधियों द्वारा गलत धारणा फैलाने की भी उन्होंने आशंका जताई है. वहीं इससे बचाव के उन्होंने सुझाव भी दिए हैं. उन्होंने बताया, कि कोविड-19 वैक्सीन की जानकारी केवल सरकारी वेबसाइट एवं सरकारी मोबाइल ऐप पर ही दिए गए हैं. उन्होंने जिले के लोगों को सचेत करते हुए कहा, कि प्राथमिकता के आधार पर कोविड-19 का वैक्सीन प्रदान कराने का कॉल अथवा मैसेज प्राप्त होने पर किसी को भी अपना गोपनीय दस्तावेज एवं राशि उपलब्ध ना कराएं. प्राथमिकता के आधार पर कोविड 19 के वैक्सीन से संबंधित किसी प्रकार के लिंक को क्लिक करने से बचें. बिना जांच किसी प्रकार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स, डीजल एडवर्टाइजमेंट के थंबनील्स पर क्लिक न करें. प्रमाणित वेबसाइट अथवा समाचार एजेंसी द्वारा प्रसारित किए जा रहे संबंधित जानकारी को ही वास्तविक माने.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!