पतरातू डैम से जिस पूजा भारती का शव मिला है उसकी गजब की थी मेमोरी, पेज नंबर के साथ याद थी किताबें

पतरातू डैम से जिस पूजा भारती का शव मिला है उसकी गजब की थी मेमोरी, पेज नंबर के साथ याद थी किताबें*।

रांची : पतरातू डैम से मंगलवार सुबह जिस युवती का बरामद किया गया था, उसकी शिनाख्त पूजा भारती के रूप में हुआ है। हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा पढ़ाई में काफी तेज थी। उसकी यादाश्त (मेमोरी) गजब की थी। उसकी बैचमैट बताती हैं कि बायोकेमेस्ट्री (Biochemistry) की वासुदेवन और सत्यनारायण की किताबें पेज नंबर के साथ मुंहजबानी याद थीं।

वहीं उसके कॉलेज की साथियों को उसके किसी अफेयर की भी जानकारी भी नहीं है। यह भी जानकारी मिली है कि पहले इंटरनल एक्जाम के समय भी पूजा दो दिन के लिए गायब हो गयी थी। वहीं एक बार ऐसा भी हुआ था कि उसने 2 घंटे के लिए खुद को बाथरूम में बंद कर लिया था।

गोड्डा की रहनेवाली थी। पूजा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के गर्ल्स हॉस्टल में फर्स्ट फ्लोर के कमरा नंबर 105 में रहकर पढ़ाई कर रही थी। पहले जहां रूम में छात्राएं साथ रहतीं थीं अब कोरोना की वजह से वो रूम में सभी अकेले ही रह रही थी।

शव मिलने के बाद पुलिस ने हॉस्टल और मेडिकल कॉलेज जाकर काफी बारीकी से जांच शुरू की है। इस घटना के बाद से छात्राएं दहशत में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!