जमशेदपुर/पोटका : उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक में यदि आप इंश्योरेंस करवा रहे हैं तो हो जाएं सावधान

जमशेदपुर /पोटका : उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक में यदि आप इंश्योरेंस करवा रहे हैं तो हो जाएं सावधान पति के मृत्यु के 5 महीने बीत चुके हैं विधवा गौरी नंदी इंश्योरेंस का 40 हजार लेने को लेकर कई बार उत्कर्ष बैंक आ चुकी है मिलता है तो बस आश्वासन और डेट, उत्कर्ष बैंक मैनेजर कहते हैं कि प्रक्रिया में समय लगेगा कम से कम 3 महीना प्रोसेसिंग में लगता है उसके बाद ही इंश्योरेंस का पैसा मिल सकता है मगर पति के मृत्यु के 5 महीने बाद भी ब्रांच मैनेजर सुमन कुमार कुछ भी बताने से असमर्थ जता रहे हैं।

आपको बता दें कि उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को ऋण देने का कार्य करती है ऋण के साथ-साथ ऋण लेने वाले का इंश्योरेंस भी इसी लोन के साथ हो जाता है जिसके तहत लोन अवधि के दौरान यदि पति की मृत्यु हो जाती है तो लाभुक जीतने का लोन लिया होता है उतनी राशि इंश्योरेंस के रूप में लाभुक के पत्नी को प्राप्त होता है मगर उत्कर्ष बैंक में इंश्योरेंस के पैसा के क्लेम को लेकर गौरी नंदी भटक रही है बस इसी आशा के साथ रोज आती है कि आज खाता में पैसा आ जाएगा मगर मिलता है सिर्फ आश्वासन और डेट आज अपनी दुखड़ा बताते हुए गोरी नंदी ने बताई की मेरा सुनने वाला कोई नहीं है पति की मृत्यु के बाद मैं कर्जदार हो चुकी हूं और इस पैसे से मैं कर्ज उतारना चाहती हूं मगर ब्रांच मैनेजर कुछ भी कहने से अपने आप को असमर्थ जता रहे हैं कहते हैं कि दूसरे के अकाउंट में पैसा चला गया पूछने पर पता चलता है कि उसे पता ही नहीं कि किसके अकाउंट में पैसा चला गया आज गोरी नदी का धैर्य जवाब दे चुका है बस और बस इंश्योरेंस के पैसे के इंतजार में डेट पे डेट आती रहती है।
रिपोर्ट – – शिव शंकर साह, mob no – – 9113773766

गौरी नंदी, लाभुक
सुमन कुमार, ब्रांच मैनेजर उत्कर्ष बैंक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!