गम्हरिया प्रखंड अंतर्गत झारखंड औद्योगिक क्षेत्रीय विकास प्राधिकार, जियाडा के विस्थापित पुनर्वास गांव में मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर जियाडा प्रशासनिक कार्यालय का घेराव

सरायकेला : जिले के गम्हरिया प्रखंड अंतर्गत झारखंड औद्योगिक क्षेत्रीय विकास प्राधिकार, जियाडा के विस्थापित पुनर्वास गांव में मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर जियाडा प्रशासनिक कार्यालय घेराव के साथ चरणबद्ध आंदोलन की शुरुआत की ।

गम्हरिया प्रखंड पंचायत समिति सदस्य राम हांसदा के नेतृत्व में जियाडा कार्यालय के समक्ष शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन के साथ आंदोलन का आगाज किया गया, गमरिया क्षेत्र अंतर्गत बंद पड़े टायो रोल्स समेत अन्य कंपनियों की लीज रद्द कर जमीन वापस करने की मांग विस्थापित कर रहे हैं, वही पुनर्वास क्षेत्र रापचा और प्रभावित गांव में जियाडा द्वारा आधारभूत विकास नहीं करने को लेकर विस्थापितों ने आक्रोश जाहिर किया है, विस्थापितों का आरोप है कि हजारो एकड़ रैयती भूमि को प्राधिकार को हस्तांतरित किया गया ,लेकिन प्राधिकार द्वारा गांव में सड़क, बिजली, पानी, सार्वजनिक शौचालय निर्माण पर रुचि नहीं दिखाई गई, इसके साथ ही स्थानीय उद्योग धंधों में भी इन विस्थापितों को रोजगार में प्राथमिकता उपलब्ध नहीं कराई जा रही, जोकि प्राधिकार का मनमाना रवैया है।

विस्थापितों द्वारा 9 सूत्री मांगों के समर्थन में बुधवार से चरणबद्ध आंदोलन की शुरुआत की गई है,जिसके तहत विस्थापित पुनर्वास क्षेत्र में आधारभूत संरचना विकास ,जियाडा क्षेत्र में आदिवासी मूलवासीयों को निजी कंपनी में रोजगार और कंपनी स्थापना में सहयोग, विस्थापित और प्रभावित समेत स्थानीय लोगों को प्राधिकार क्षेत्र अंतर्गत उद्योगों में सीधी बहाली ,विस्थापितों और स्थानीयो के लिए एक कॉलेज की स्थापना इंजीनियरिंग डिप्लोमा , आईटीआई पास छात्रों को स्थानीय उद्योगों में नौकरी ,समेत जियाडा कार्यालय में कार्यरत कॉन्ट्रैक्ट पर बहाल कर्मचारियों को सभी सुविधा उपलब्ध कराने की मांग मुख्य रूप से शामिल है।

बाइट –

राम हांसदा , पंचायत समिति सदस्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!