जेएमएम उपाध्यक्ष शंकर मुखी ने प्रदूषण के खिलाफ टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट को 1 सप्ताह के अंदर प्रदूषण रोकने का दिया अल्टीमेटम

जेएमएम उपाध्यक्ष शंकर मुखी ने प्रदूषण के खिलाफ टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट को 1 सप्ताह के अंदर प्रदूषण रोकने की दिया अल्टीमेटम ।
पूर्व के उषा मार्टिन कंपनी और वर्तमान के टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट कंपनी के प्रदूषण से त्राहि-त्राहि कर रहे कंपनी के इर्द-गिर्द के बस्ती के लोग अब आंदोलन के मूड में दिख रहे हैं।
कंपनी क्षेत्र के लोगों में काफी नाराजगी एवं आक्रोश देखा जा रहा है ।लोगों की उम्मीद जगी थी कि उषा मार्टिन को अधिग्रहण करने पर टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट प्रदूषण पर रोक लगाएगी ।मगर स्थिति पूर्वत ज्यों की त्यों बनी हुई है। जिससे लोगों में काफी आक्रोश बढ़ रहा है। कई बार राजनीतिक सामाजिक पार्टियों द्वारा भी प्रदूषण पर रोक लगाने की मांग की गई, मगर नतीजा ज्यों का त्यों और शिफर ही रहा ।परंतु अब प्रगति नगर, साईं नगर ,वास्को नगर, गायत्री नगर, बाल्मीकि नगर ,भोजपुर कॉलोनी, आदर्श नगर ,गम्हरिया के विभिन्न गांव के क्षेत्रों के लोग अब एक बैनर तले होकर आंदोलन करने की मुंड बना रहे हैं।जिसको लेकर झारखंड मुक्ति मोर्चा के नगर उपाध्यक्ष शंकर मुखी द्वारा बस्ती के विभिन्न व्यक्तियों से घूम-घूम कर संपर्क कर लोगों को आंदोलन के लिए जागरूक किया जा रहा है। अब टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट से प्रदूषण नहीं रुकने पर आर-पार की लड़ाई लड़ने के लोग मन बना रहे हैं।जिसको लेकर माननीय मुख्यमंत्री झारखंड मुख्य सचिव झारखंड कोल्हान आयुक्त उपायुक्त प्रदूषण विभाग को पत्र भेज कर कार्रवाई की मांग करने की बात कही हैं। कारवाई नही होने पर, और नहीं प्रदूषण रोकने पर शीघ्र सड़कों पर उतरकर कंपनी गेट का घेराव किया जाएगा। जिसकी सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। प्रदूषण से फैल रहे और हो रहे इसका प्रकोप को कई व्यक्तियों द्वारा बताया गया कि इससे खाने में प्रदूषण जा रहा है ।छत पर कपड़े पसारने पर सफेद काले हो जा रहे हैं। प्रदूषण से सभी पेड़ पौधे अगल-बगल के लाल हो गए हैं ।ऐसे में अगर नहीं रुकी तो यहां का जीवन लोगों का नर्क हो जाएगा । लोग मौत के मुंह में धीरे-धीरे बीमारी से प्रदूषण के चलते समाते जाएंगे ।देखना यह है कि अब जिला प्रशासन कार्रवाई करती है या टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट इसे रोकती है ,या कंपनी का घेराव ही एकमात्र लोगों के पास विकल्प बचता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!