Jamshedpur : संयुक्त युवा संघ ने केरला समाजम स्कूल के ऊपर न्यायिक कार्रवाई किये जाने की कि मांग

Chamakta Bharat : वैश्विक महामारी कोरोना के कहर के कारण झारखंड सरकार ने राज्य के तमाम निजी स्कूलों एबं शिक्षण संस्थानों को फ़ी के लिए दबाब नहीं बनाने का आदेश दिया है. इस दौरान छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ नहीं होना चाहिए. लेकिन  जमशेदपुर स्थित केरला समाजम स्कूल के प्रबंधक ने ना सिर्फ सरकारी आदेशों की अवहेलना की बल्कि बच्चों के अभिभावकों को मोबाइल में यह संदेश दिया कि अगर वह पैसे जमा नहीं करवाते हैं. तो उन्हें परीक्षा के हर विषय में शून्य अंक  दिया जाएगा. इसपर संयुक्त युवा संघ की टीम ने केरला समाजम स्कूल के ऊपर न्यायिक करवाई किये जाने की मांग की है, इस दौरान टीम के सदस्यों ने पूर्वी सिंहभूम जिले के वरीय पुलिस अधीक्षक डॉ एम तमिल वणन को इस संबंध में एक ज्ञापन सौपते हुए कहा की राज्य सरकार ने ऑनलाइन पढ़ाई के नियमों के तहत ये निर्देश जारी किया था की अभिभावक अपने सहूलियत के अनुसार स्कूल के मासिक फीस को जमा करेंगे. चूंकि लॉकडाउन के कारण कई अभिभावक नौकरी से भी वंचित हो चुके हैं. लेकिन शहर के केरल समाजमा पब्लिक स्कूल द्वारा खुलेआम ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे छात्रों के मोबाइल और ये संदेश भेजा गया है कि अगर परीक्षा से पहले पूरी फीस जमा नही की गई तो छात्रों को परीक्षा में शून्य अंक मिलेगा. यानी कि सीधे तौर पर उन्हें फेल कर दिया जाएगा. संघ ने इसे सीधे तौर पर आपराधिक प्रवृति करार देते हुए उक्त स्कूल प्रबंधन पर न्यायिक करवाई किये जाने की मांग की है.

error: Chamakta Bharat Content is protected !!