आनंद मार्ग के संस्थापक भगवान श्री श्री आनंदमूर्ति जी के अंतिम निजी सहायक आचार्य केशवानंद अवधूत नहीं रहे

जमशेदपुर 6 जनवरी। आनंद मार्ग प्रचारक संघ के वरिष्ठ पुरोधा एवं केंद्रीय समिति के सदस्यआचार्य
केशवानंद अवधूत का निधन इलाज के दौरान कोलकाता में गया।* उनकी तबीयत कुछ दिनों से खराब थी केशवानंद जी मृदुभाषी एवं बहुप्रतिभा के धनी थे। वे हर किसी के लिए सहज सुलभ थे। जब आनंद मार्ग के संस्थापक भगवान श्री श्री आनंदमूर्ति जी आपातकाल के दौरान तात्कालिक भारत सरकार के एक षड्यंत्र के तहत पटना कारावास में थे, तब केशवानंद जी ने कार्यवाहक महासचिव के रूप में ऐतिहासिक कार्य किया था। उन्होंने केंद्रीय ERAWS सेक्रेटरी (एजुकेशन रिलीफ एंड वेलफेयर सेक्शन )केंद्रीय AMURT सचिव और सबसे महत्वपूर्ण “बाबा” श्री श्री आनंदमूर्ति जी के निजी सहायक के रूप में काम किया। *वे बाबा के अंतिम निजी सहायक थे।
लगभग 55 वर्षों तक उन्होंने भारत के विभिन्न प्रांत में पीड़ित मानवता के लिए अपनी सेवाएं प्रदान की ।
वे लगभग 80 वर्ष के थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!