किसानों के समर्थन में हक़ और सच की लड़ाई जारी रहेगी: भगवान सिंह, कीताडीह चौपाल में जनता का भरपूर सहयोग मिला

किसान आंदोलन के समर्थन में रोजाना लगायी जाने वाली चौपाल का सोमवार को सतरहवाँ दिन था। टाटानगर रेलवे स्टेशन के पास कीताडीह मोड़ पर आयोजित चौपाल में स्थानीय निवासियों का भरपूर सहयोग मिला और उन्होंने पूरी तन्नलीनता से वक्ताओं को सुना।
मानगो गुरुद्वारा कमिटी के द्वारा आयोजित चौपाल की निर्बाध श्रृंखला के सतहरवें दिन कीताडीह की जनता तो सम्बोधित करते हुए गुरुद्वारा सिंह सभा मानगो के प्रमुख भगवान सिंह ने कहा कि किसान बिल के विरोध तथा किसानो की मांगो के समर्थन में हक़ और सच की लड़ाई इंसाफ मिलने तक जारी रहेगी। उन्होंने कहा, यह किसानों का आंदोलन है, इसे सिखों का आंदोलन सरासर गलत है। सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी के पूर्व प्रधान गुरमुख सिंह मुखे ने भी चौपाल में हाज़री भरकर सरकार को लताड़ा। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन पर राजनीति हो रही है, इस पर राजनीति न करे सरकार क्योंकि केन्द्र सरकार जरा भी गम्भीर नही दिख रही है इस मामले में।
वहीँ नेशनल कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डाँ पवन पाण्डेय ने चौपाल में कहा की लगातार 39 दिनों से देश के किसान सड़कों पर कड़कड़ाती ठंड में जान गवां रहे है यह हर तरह से निंदनीय और दुखदायक है। उन्होंने कहा अगर वार्ता के दौरान कोई हल आज नहीं निकलता है तो जमशेदपुर में आंदोलन और ऊँचे स्तर पर ले जाया जायेगा। कीताडीह गुरुद्वारा के प्रधान जसबीर सिंह गांधी के नेतृत्व में समस्त कमिटी ने सहयोग किया। चौपाल को कमिटी के सक्रीय कार्यकर्ता हीरा सिंह, सुखवंत सिंह ने भी सम्बोधित किया।
चौपाल का मंच संचालन मानगो गुरुद्वारा के सचिव जसवंत सिंह जस्सू ने किया जबकि हीरा सिंह, हरजिंदर सिंह, सुखदेव सिंह, गुरशरण सिंह, राजीव ओझा, मनदीप सिंह, बलबीर सिंह, राजीव रंजन दूबे, तेजपाल सिंह, सुखलाल शांडिल, सूरज प्रधान, मिंटू प्रसाद, राजेश चौहान और सुखबीर सिंह ने कृषि कानून के विरूद्ध चौपाल में भाग लिया। बताते चलें कि गुरुद्वारा सिंह सभा मानगो द्वारा किसान बिल के विरोध में एक मुहिम के तहत जमशेदपुर के विभिन्न क्षेत्रों में रोजाना चौपाल लगायी जा रही है ताकि जनता को जागरूक किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!