रांची : अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी का निधन, पूरे राज्य में दौड़ी शोक की लहर, मेदांता अस्पताल में उन्होंने ली अंतिम सांसे

Chamakta Bharat : कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां शुक्रवार को उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी. बावजूद इसके उनकी मौत शनिवार को रांची के मेदांता अस्पताल में हो गई. उनकी मौत से पूरे राज्य की जनता में शोक की लहर दौड़ गई है. अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी झारखंड मुक्ति मोर्चा के बड़े चेहरों में से एक थे. वे 1995 से लगातार वे चार बार विधायक बने थे. 2009 में सर्वप्रथम उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किया गया. वर्तमान सरकार में भी उन्हें अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री का पदभार सौंपा गया था. हालांकि उन्होंने राजनीति की शुरुआत कांग्रेस पार्टी से की थी पर कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़ दिशोम गुरु शिबू सोरेन के साथ मिलकर उन्होंने झारखंड अलग राज्य के आंदोलन में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की थी. झारखंड सरकार ने मंत्री हाजी हुसैन अंसारी मौत को अपूरणीय क्षति बताया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!