साकची : CGPC कार्यालय में प्रेस वार्ता किया गया, कल सुबह 10 बजे से किसानों के समर्थन में साकची गोलचक्कर पर शांतिूपूर्वक धरना प्रदर्शन किया जाएगा

जमशेदपुर : पिछले 1 महीने से भी अधिक समय से कृषि बिल 2020 के विरोध में दिल्ली बॉर्डर पर जमे किसानों के समर्थन में देश के अलग-अलग हिस्सों से आवाज बुलंद हो रहे हैं, बावजूद इसके केंद्र सरकार किसानों की मांग मानने से अब तक इंकार करती रही है. इधर जमशेदपुर में भी किसानों के समर्थन में लगातार केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध के स्वर उठ रहे हैं। रविवार को सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी आंदोलनरत किसानों के समर्थन में केंद्र सरकार के खिलाफ काला बिल्ला लगाकर जन आक्रोश रैली आयोजित करेगी इसकी जानकारी सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने देते हुए बताया कि साकची स्थित गुरुद्वारा से सिख समाज द्वारा बिरसा चौक तक रैली का आयोजन किया जाएगा, जहां रैली एक सभा में तब्दील हो जाएगी। जहां से 5 लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल जिले के उपायुक्त से मुलाकात कर विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में एक मांग पत्र सौंपेगी।

चेयरमैन सरदार शैलेंद्र सिंह ने बताया कि कल सुबह 10:00 बजे साकची गोल चक्कर पर शांतिपूर्वक धरना प्रदर्शन किया जाएगा जिसमें किसानों के समर्थन में सभी लोग इकट्ठा होकर जुलूस निकालेंगे। साथ ही उन्होंने बताया की किसान आंदोलन के चलते लोग सिखों को देशद्रोही बता रहे हैं लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि भारत में सिखों की संख्या केवल दो परसेंट है लेकिन जब देश के बॉर्डर पर शहीदों के नाम गिने जाते हैं तो उसमें 90% सीख भाई ही होते हैं। सरकार को किसान भाइयों की बात जल्द से जल्द सुननी चाहिए और उनके हित में फैसला लेना चाहिए।

वहीं पूर्व प्रधान गुरमुख सिंह मुख्य ने कहा की उनकी किसी के साथ कोई भी बात नहीं है उनके ऊपर जो आरोप लगाया गया था उसके विषय में वह पूरी साक्ष्य के साथ किसी दूसरे दिन बताएंगे और जितने दिन वे लोगों की सेवा नहीं कर पाए थे उसकी भरपाई करने के लिए अब पूरी लगन के साथ काम करेंगे साथ ही उन्होंने कहा कि अगर कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति उनके पास आएगा तो उसकी मदद जरूर की जाएगी।

सरदार गुरमुख सिंह मुखे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Chamakta Bharat Content is protected !!