Jamshedpur : उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित बेटी के साथ घटी घटना ने देश में पकड़ा तूल, यूपी सरकार को बर्खास्त करने की उठायी जा रही मांग

Chamakta Bharat : डॉ अंबेडकर एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी वेलफेयर समिति की ओर से उपायुक्त कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया गया. जहां समिति के सदस्यों ने हाथों में छोटी-छोटी तख्तियां लेकर यूपी सरकार के खिलाफ अपना आक्रोश व्यक्त करते नजर आए. बता दे विगत दिनों यूपी के हाथरस में हैवानियत का शिकार हुई दलित गुड़िया के साथ हैवानों ने गैंगरेप के बाद उसकी जीभ भी काट दी थी. उसकी रीढ़ की हड्डी तोड़ दी गई थी. जिसके बाद किशोरी को दिल्ली एम्स में दम तोड़ दिया. जिसके बाद पुरे देश में यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है. समिति के सदस्यों ने उपायुक्त के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपकर दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की. समिति के सदस्यों ने जातिवाद हिंसा में लगाम लगाते हुए यूपी के असंवेदनशील सरकार की बर्खास्तगी की मांग की. साथ ही पीड़िता के आश्रितों को 50 लाख रूपया मुआबजा के साथ सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग की. इस दौरान समिति के सदस्यों ने जमकर यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.

दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भी उपायुक्त कार्यालय पहुंच देश में घट रही घटनाओं पर अंकुश लगाने की मांग को लेकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा. विगत दिनों उत्तर प्रदेश के हाथरस और बलरामपुर में घटी दुष्कर्म जैसी घटनाओं की कड़ी निंदा करते हुए आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कहा कि इससे यूपी सरकार और पुलिस की असंवेदनशीलता नजर आ रही है. हाथरस के बाद बलरामपुर में युवती के साथ दरिंदगी जैसी घटी घटना ने पूरे देश को झकझोर दिया है, आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उपायुक्त के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपकर मांग की है कि जल्द से जल्द यूपी में यूपी सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लागू की जाए और पूरे देश में कहीं भी प्रशासनिक पदाधिकारियों द्वारा लापरवाही बरती जाती है तो उन्हें बर्खास्त कर उन पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई है.

error: Chamakta Bharat Content is protected !!